श्री ज्योतिर्मणि पीठ !
मणिकूट - नीलकण्ठ

दश महाविद्याओं की संयुक्त साधना के नाम पर भ्रांतियों का प्रसार !